महिला ने लगाया छेड़खानी का आरोप,अपर विकास अधिकारी बोले- जब किसी ने देखा नहीं तो साबित कैसे करोगी

मऊ. यूपी के मऊ में एक महिला आपरेटर ने अपर विकास अधिकारी पर छेड़खानी का आरोप लगाया है। आरोप है कि अपर विकास अधिकारी श्रीकांत मिश्र उसके साथ छेड़छाड़ करते है। इससे परेशान महिला ने डीएम प्रकाश बिंदु को ज्ञापन देकर न्याय की मांग की है। इस घटना से सरकारी विभागों में खलबली मची हुई है। वहीं इस मामले में आरोपित अपर विकास अधिकारी ने बेतुका बयान देते हुए कहा कि छेड़खानी करते हुए किसी ने नहीं देखा है तो साबित कैसे होगा। 

-दरअसल, यह पूरा मामला मऊ जिले के हलधरपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत रतनपुरा ब्लॉक का है।

-जहां अपर विकास अधिकारी के पद पर श्रीकांत मिश्र तैनात है। जिनके उपर ब्लाक की डाटा फीड करने वाली ऑपरेटर ने छेड़खानी करने आरोप लगाया है।

-हालांकि जिस महिला ने आरोप लगाया है वो जिले के परदहा ब्लाक में आपरेटर के पद पर तैनात है।

-अपर विकास अधिकारी श्रीकांत मिश्र पर आरोप लगा है कि महिला आपरेटर के कार्य करते समय पीछे और बालों पर हाथ फेंरते है और साथ ही गंदी बातें भी करते है।

-महिला कई बार अपर विकास अधिकारी को मना कर चुकी है, मगर वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे है। 

-हालांकि अपर विकास अधिकारी को दोनों ब्लाको का चार्ज दिया गया था, लेकिन ये मामला सुनकर मुख्य विकास अधिकारी ने अपर विकास अधिकारी को रतनपुरा भेज दिया।

-वहीं महिला आपरेटर ने मांग कि उसका भी किसी दूसरे ब्लाक में ट्रांसफर कर दिया जाए या उस अधिकारी को सस्पेंड कर दिया जाए

-वहीं इस मामले में  सिटी मजिस्ट्रेट हंसराज यादव का कहना है कि  ये जांच का विषय है और जांच के बाद ही दोषी पर कार्यवाही की जाएगी। 

-इस मामले में जब अपर विकास अधिकारी श्रीकांत मिश्र से बात की गई तो बेतुका बयान देते हुए कहा कि किसी ने छेड़खानी करते हुए देखा ही नहीं है तो साबित कैसे होगा..साथ ही कहा कि जब ये मामला दो महीने पहले का है, तो अभी क्यों शिकायत की गई... ये सारा आरोप गलत है...।