कैदियों में सुधार लाने की अच्छी पहल, उरई जेल ने किया ओलंपियाड का आयोजन

जालौन. कहा जाता है कि अपराध की सजा काटने के दौरान कैदियों में परिवर्तन होना स्वाभाविक है। इस दौरान अगर उन्हें खेल और मनोरंजन में भागीदार बनाया जाए तो परिवर्तन जल्द देखने को मिलता है। इसी उद्देश्य के साथ जालौन के उरई जेल प्रशासन ने कैदियों के लिए ओलंपियाड का आयोजन किया। 
जिला प्रशासन की मदद से आयोजित शीतकालीन ओलंपियाड में कई तरह की प्रतियोगिताएं आयोजित हो रही है। 
जिलाधिकारी जालौन डा मन्नान अख्तर और पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने फीता काटकर ओलंपियाड का उद्घाटन किया। 19 से 25 जनवरी तक होने वाले इस प्रतियोगिता में कबड्डी, बॉलीबाल कैरम, बैडमिंटन सहित 19 खेलो का आयोजन किया जाएगा।
जिलाधिकारी जालौन मन्नान अख्तर ने बताया की जिस तरह जेल में ओलंपिक्स कराये जा रहे है इससे बंदियों को स्वास्थ्य लाभ होगा और उनके पुनर्वास की ओर एक कदम आगे बढ़ेगा। प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देना है। कैदियों के बीच अच्छा माहौल रहता है आने वाले समय में भी ऐसी प्रतियोगिताएं चलती रहेगी।