पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा ने कराई थी BJP नेता गजेंद्र भाटी की हत्या

गाजियाबाद. खोड़ा थाना क्षेत्र की इंदिरा विहार कॉलोनी में बीजेपी नेता गजेंद्र भाटी की हत्या के मामले में पुलिस ने मुख्य शूटर नरेंद्र फौजी को गिरफ्तार किया है। शूटर ने खुलासा किया है कि पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा के कहने पर ही उसने गजेंद्र की हत्या की थी। इसके साथ ही शूटर ने बताया कि पूर्व पार्षद टीटी की हत्या भी अमरपाल शर्मा का हाथ था। 

एडवांस में दिए गए थे 50 हजार रुपए 

-पुलिस ने बताया कि अमरपाल शर्मा ने शूटर नरेंद्र फौजी को एडवांस में 50 हजार रुपए दिए थे। 

-इसके बाद बाकी के पैसे दिए जाने थे। 

 

पूर्व विधायक के खिलाफ दर्ज किया था मुकदमा 

-पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी। 

-बता दें कि अमरपाल शर्मा साहिबाबाद विधानसभा सीट से बीएसपी के विधायक रह चुके हैं। अभी वह कांग्रेस पार्टी में है। 

-बताया जा रहा है कि जो शार्पशूटर पकड़ा गया है वह विधायक का पीएसओ रहा है। 

-ऐसे में जल्द ही अमरपाल शर्मा की गिरफ्तारी हो सकती है। 

 

क्या है मामला 

-दरअसल, इंदिरा कॉलोनी में रहने वाले गजेंद्र भाटी (30 वर्ष) बीजेपी कार्यकर्ता थे और चेयरमैन पद की दावेदारी करने की तैयारी में लगे हुए थे। 

-चुनाव की तैयारियों के लिए उन्होंने इंदिरा कॉलोनी की गली नंबर-5 में कार्यालय बना रखा था। 2 सितंबर को  दोपहर करीब 12:45 बजे वह अपने कार्यालय में थे। 

-उस दौरान किसी ने फोन करके शनि बाजार के पास हंगामा होने की सूचना दी थी।

- गजेंद्र स्कॉर्पियो से मौके पर पहुंचे और लोगों को शांत कराने लगे। इस बीच सुभाष पार्क निवासी बीजेपी के खोड़ा-मकनपुर मंडल अध्यक्ष बलवीर चौहान भी वहां पहुंच गए।

- लोगों के शांत होने के बाद गजेंद्र ने अपनी स्कार्पियो कार्यकर्ताओं के हवाले कर दी और बलवीर की बाइक से कार्यालय जाने लगे। 

-दोनों इंदिरा विहार कॉलोनी पहुंचे तो पीछे से आए बाइक सवार 2 युवकों ने नमस्ते करके उन्हें रोक लिया। इससे पहले दोनों कुछ समझ पाते, बाइक के पीछे बैठे बदमाश ने फायरिंग कर दी।

-इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी।