सूदखोर बीजेपी नेता की धमकी से युवक ने घर छोड़ा, बैनर लगाकर परिवार मांग रहा है न्याय

कानपुरः बीजेपी के पूर्व जिलाध्यक्ष के बेटे की धमकी से डर कर एक युवक ने घर छोड़ दिया। जाते वक्त उसने घर पर एक नोट छोड़ गया, जिसमें उसने कहा कि बीजेपी के नेता के बेटे की धमकी सहन नहीं कर पाने से वह आत्महत्या करने जा रहा है। पर्ची मिलने के बाद से परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है। परिजनों ने पुलिस से मदद की गुहार की लेकिन पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर अपनी जिम्मेदारी से इतिश्री कर ली। इस घटना को हुए एक सप्ताह से ज्यादा हो गया लेकिन अभीतक युवक का अता-पता नहीं चल सका। किसी भी अनहोनी की आशंका से परिवार सहमा हुआ है।

क्या है मामला

-मामला कानपुर के नौवस्ता थाना क्षेत्र के यशोदा नगर इलाके का है। यहां के निवासी सुमित गौड़ 31 अगस्त से लापता है। घर छोड़ते वक्त सुमित ने एक पत्र घर में छोड़ा, जिसमे उसने लिखेा कि पिता के इलाज के लिए उसने बीजेपी नेता राज बल्लभ पांडे से 2 लाख रुपए लिए थे।
-इसके बदले राज बल्लभ 17 लाख रुपये वसूल कर चुका है। अब वह सुमित के प्लाॅट पर भी कब्जा करने की फिराक में था। प्लाॅट उसके नाम नहीं करने पर लगातार जान से मारने की धमकी दे रहा था। 
-रोजाना की धमकियों से आजिज आकर आ उसने घर छोड़ दिया और लिखा कि वो अपनी जान देने जा रहा है ।

सीएम से लगाई न्याय की गुहार

-अब न्याय की आस में परिजन सीएम योगी का पोस्टर लेकर उनसे बेटे को खोजने और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। 
-मामला सामने आने के बाद डीएम ने राज बल्लभ को जिलाबदर कर दिया है। भाजपा नेताओं का पुलिस पर दबाव है। पुलिस इसे मामूली घटना बताकर समझौता कराने में लगी हुई है। 
-आरोपी के खिलाफ थाने में तहरीर देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। सिर्फ गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की गई। पुलिस का कहना है कि यह लेनेदेने का मामला है। धमकी देने की बात पुलिस नहीं मान रही है।
-3 दिन पहले बीजेपी के मंडल अध्यक्ष ने शराब के पैसे न देने पर 2 नाबालिक भाइयांे पर चाकू से जानलेवा हमला भी किया था। मुकदमा दर्ज हुआ था लेकिन मंडल अध्यक्ष की अभीतक गिरफतारी नहीं हुई।