प्रशासन ने केरल के एक स्कूल में मोहन भागवत को झंडा फहराने से रोका, RSS ने दी चुनौती

पलक्कड़. स्वतंत्रता दिवस के मौते पर RSS प्रमुख मोहन भागवत को केरल के एक स्कूल में झंडा फहराने से रोक दिया गया। केरल के पलक्कड़ स्थित एक स्कूल में झंडा फहराने पहुंचे मोहन भागवत को DM ने रोक दिया। साथ ही DM ने कहा कि किसी भी राजनीतिक नेता द्वारा ध्वजारोहण ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि ध्वजारोहण या तो स्कूल टीचर फहरा सकता है या फिर चुने हुए प्रतिनिधि द्वारा ध्वजारोहण किया जा सकता है।

 

क्या बोला स्कूल प्रशासन 

-मोहन भागवत को ध्वजारोहण ना करने देने के फैसले को बीजेपी ने चुनौती दी है।

-दरअसल मोहन भागवत को RSS के एक कार्यकर्ता द्वारा संचालित करनाकियामम स्कूल में मंगलवार सुबह 9 बजे ध्वजारोहण करना था।

-इस बीच स्कूल को जिला कलेक्टर की तरफ से सूचित किया गया।

-साथ ही कहा गया कि एडिड स्कूल में किसी राजनीतिक पार्टी के पॉलीटिकल लीडर द्वारा ध्वजारोहण कराया जाता है तो ये नियमों का उल्लंघन होगा।

 

RSS ने दी चुनौती 

-जिला कलेक्टर ने कहा कि लोगों के प्रतिनिधि या फिर स्कूल के प्रमुख ही ध्वजारोहण कर सकते है।

-सरकार ने इस मामले में एक ऑर्डर भी जारी किया है।

-जिला प्रशासन ने स्कूल प्रशासन को रात एक बजे नोटिस जारी करते हुए कहा कि सरकारी आदेश का पालन करें।

-हालांकि RSS ने इस ऑर्डर को चुनौती देते हुए कहा है कि फ्लैग कोर्ड के मुताबिक स्वतंत्रता दिवस पर कोई ध्वजारोहण कर सकता है।