जम्मू के लेह मे बनेगी रेल ट्रैक 3300 मी. उँचाई की , जो होगी दुनिया की सबसे ऊँची

एनएनआई   ( जम्मू कश्मीर)    जम्मू कश्मीर के  लेह में दुनिया का सबसे ऊंचा रेल ट्रैक बिछाने के लिए फाइनल लोकेशन सर्वे का काम जून के आखिरी हफ्ते में शुरू हो जाएगा. लेह लद्दाख में जम्मू-कश्मीर के नार्थ ईस्ट पार्ट में स्थित है जो सीवियर जीरो वेदर कंडीशन वाला इलाका है. ये लाइन बिलासपुर मनाली लेह नई ब्रॉड गेज लाइन होगी जो 498 किलो मीटर है. जब ये इलाका ठंड में देश के तमाम दूसरे हिस्से से कट जाता है

अगर इस रेल ट्रैक को तैयार करने की योजना पूरी हो जायेगी   तो यह चीन किंघाई-तिब्बत रेलवे को पछाड़कर दुनिया का सबसे ऊंचा रेलवे ट्रैक होगा। इस ट्रैक की ऊंचाई समुद्र तल से 3,300 मीटर होगी। रेल मंत्रालय की ओर से जिन 4 महत्वपूर्ण रेल नेटवर्क्स की योजना बनाई गई है, उनमें से लेह तक बनने वाली यह लाइन भी होगी।

इस ट्रक के हो जाने से लोगो को बहुत फायदा होगा , लोगो  को रेलवे से जोड़ेगा बल्कि देवभूमि हिमाचल प्रदेश के मंडी, मनाली, कुल्लू, कियलॉंग, टन्डी, कोकसर, डच, उपसी और कारु को भी जोड़ेगा. इसके फाइनल लोकेशन सर्वे के लिए करीब 157 .77 करोड़ रुपये आवंटित की गई है जिसका उद्घाटन रेल मंत्री 27 जून को कर सकते हैं. ये इलाका शिवालिक, ग्रेट हिमालयन और जांस्कर रेंज एरियाज में पड़ता है जो भूकम्प जोन IV और V में पड़ता है।

इससे चीन की सीमा तक सेना को समान पहुंचाना आसान हो जाएगा. फिलहाल सिर्फ हिमाचल प्रदेश के कालका शिमला रुट पर ही रेलगाड़ी दौड़ती है वो भी नैरो गेज रेल लाइन पर. मतलब साफ है कि अब तक ये तमाम इलाके ब्रॉड गेज रेल लाइन से महरूम है. इसके फाइनल लोकेशन के काम को मार्च 2019 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है ।