बिहार की राह पर छत्तीसगढ़:नीतीश से मिलकर बोले रमन सिंह, छ्त्तीसगढ़ में भी होगी शराबबंदी...

 एन.एन.आई|नीतीश सरकार द्वारा बिहार में शराबबंदी के बाद अब बीजेपी की सरकारें भी इस दिशा में कदम बढ़ाने लगी हैं. कल मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया था कि वे एक-एक कर राज्य में शराब की दुकानें बंद करेंगे, तो आज उसी तर्ज पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने भी राज्य में शराबबंदी का ऐलान कर दिया है. खास बात ये है कि रमन सिंह ने ये ऐलान अपनी बिहार यात्रा के दौरान ही किया. गौरतलब है कि बिहार में नीतीश कुमार सरकार ने पूर्ण शराबबंदी लागू कर रखी है. गुजरात के बाद ऐसा करने वाला बिहार दूसरा राज्य बन गया है. नीतीश शुरू से ही कहते रहे हैं कि किसी भी प्रदेश में शराबबंदी पूरी तरह से तभी सफल हो सकती है जब पूरे देश में इसे बंद कर दिया जाए. लगता है कि नीतीश की अपील रंग दिखाने लगी है.

सोमवार को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा था कि राज्य में चरणबद्ध तरीके से शराबबंदी लागू की जाएगी. नमामी देवी नर्मदे- नर्मदा सेवा यात्रा के तहत नरसिंहपुर जिले के नीमखेड़ा इलाके में एक प्रोग्राम के दौरान उन्होंने कहा- पहले चरण में राज्य सरकार नर्मदा नदी के किनारे पांच किलोमीटर तक सभी शराब की दुकानें बंद कराएगी. इसके बाद अगले चरण में रिहाइशी इलाकों में शराब बंदी की जाएगी. खासकर उन इलाकों से जहां शैक्षिक संस्थान और धार्मिक स्थान हैं, उनके आसपास की दुकानें बंद कराई जाएंगी.

शिवराज की तर्ज पर आज रमन सिंह ने भी छत्तीसगढ़ में चरणबद्ध तरीके के शराबबंदी लागू करने का ऐलान किया. रमन सिंह दो दिन की अपनी निजी यात्रा पर बिहार में हैं और आज सुबह ही उन्होंने पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की थी. मुलाकात के बाद मुंगेर में रमन सिंह ने कहा कि जिन गांवों की आबादी 3 हजार या उससे ज्यादा है पहले वहां शराबबंदी की जाएगी. उन्होंने कहा कि मैं छत्तीसगढ़ में शराब बंदी लागू करूंगा और राज्य अब इस दिशा में आगे बढ़ेगा. रमन सिंह मुंगेर में स्वामी निरंजनानंद सरस्वती के आश्रम में उनसे मिलने पहुंचे थे.