पुरानी रंजिश के चलते ट्रांसपोर्टर के घर तथा वर्कशाप पर 40 के करीब हथियारबंद व्यक्तियों ने किया हमला

एन.एनआई। आज गुरदासपुर के जी.टी रोड पर खुलेआम दहशत में आकर 40 के करीब व्यक्तियों ने एक घर और वर्कशापके अंदर जाकर तेजधार हथियारों और नंगी तलवारों के साथ हमला किया। जिसमें एक व्यक्ति गंभीर घायल हो गया,जबकि घर में काफी तोडफ़ोड़ करके लाखों का नुकसान किया गया। जिस कारण इलाके में दहशत का माहौल बन गया है। घटना इलाके में आग कि तरह फैलने के बाद सिटी थाने के एस.एच.ओ दर्जन भर पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस को आता देख हमलावर मौके से फरार हो गये।

इस संबंध में जानकारी देेते हुए घर के मालिक और ट्रांसपोर्टर अजीत सिंह ने बताया कि उसका लेबर का झगडा महिंदरपाल पुत्र जिया लाल निवासी सहजादानगर के साथ पिछले काफी समय से चलता आ रहा है, क्योंकि कुछ मेरे और कुछ महिंदरपाल के लेबर के व्यक्ति संयूक्त तौर पर ट्रांसपोर्टर में लेबर का काम करते है, जिसका कुछ दिन पहले ढुलाई का टैंडर डाला गया था। जिसमें कमिया होने से मैंने उसका विरोध किया था और मेरी लेबर ने कम रेट पर कामकरना बंद कर दिया था। जिससे महिंदर पाल ने उनके साथ रंजिश रखनी शुरु कर दी। कुछ दिन पहले उनके साथी कश्मीर चंद जो लेबर का प्रधान है, को मिल्क प्लांट के पास इनके कुछ व्यक्तियों ने हमला करके घायल कर दिया था।जिसका वह मुख्य गवाह था।

  • इसी मामले के तहत सिटी थाने गुरदासपुर में तीन व्यक्तियों के विरुद्घ 326 का मामला दर्ज करवाया। जिसमें महिंदर पाल, अमरपाल और सूरज भट्टी शामिल थे। इन्होने मौके पर गवाह होने से मेरे साथ रंजिश रखनी शुरु कर दी।आज इनके कुछ 40 के करीब साथियों ने कारों व मोटरसाइकिलों पर सवार होकर तेजधार हखियारों व नंगी तलवारों से उनकी वर्कशाप और उनके घर को चारो तरफ से घेर कर जोरदार हमला कर दिया। जिस समय यह हमला हुआ, उस समय वह बाजार गया हुआ था और उनके घर में उनका परिवार था, जिससे उनकी पत्नी दविंदर कौर, माता स्वर्ण कौरव बच्चा तेजपाल तथा भाभी जसबीर कौर तथा  वर्कशाप पर भाई अवतार सिंह और उनके लेबर का काम कर ताजसबीर पुत्र बावा सिंह निवासी पाहड़ा शामिल था। उनके परिवार ने घर में एक कमरे में छिपकर अपनी जान बचाई,मगर उनकी लेबर पर काम कर रहे जसबीर ङ्क्षसह पर हमले के दौरान इन व्यक्तियों ने काफी चोटें लगाई। जिससेवह गंभीर घायल हो गया। जिसको ईलाज के लिए अस्पताल में दाखिल करवाया गया।

  • हमले के दौरान क्या हुआ नुक्सान

  • हमले के दौरान उन्हने घर के बाहर लगी मेरी कार तथा लेबर वाले लडक़े का मोटरसाइकिल, उनके घर का टी.वी, फ्रिज, अलमारी, खिडक़ीया, दरवाजे व अन्य कीमती सामान की तेजधार हथियारों से तोडफ़ोड़ कर दी। जिससे उनकालाखो का नुकसान हुआ है। हमला करने के बाद इनके कुछ साथियों ने घर से कुछ दूरी पर स्थित इंडियन आयल केहरनाम सिंह महिंदर ङ्क्षसह नाम के पैट्रोल पंप पर यह व्यक्ति हमला करने के लिए गए, मगर इतनी देर को पुलिस वहां पहुंच गई। जिससे पुलिस को देखकर हमलावर मौके पर से फरार हो गए।

इस संबंधी मौके पर पुलिस पार्टी के साथ पहुंचे थाना सिटी के एस.एच.ओ विश्वानाथ ने बताया कि हम पूरीस्थिति का जायजा लिया है और घर में हुई तोडफ़ोड़ भी देखी है। हम पैट्रोल पंप पर लगे सी.सी.टी.वी कैमरे की सहायताले रहे है। घर वालों के ब्यानों पर हमने हमलवारों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। हमलावरो को किसी भी कीमतपर बखशा नही जाएगा।