पत्नि ने प्रेमि के साथ मिलकर की पति कि हत्या जासूसों की मदद से सुलझी गुत्थी...

एन.एन.आई|हरियाणा के यमुनानगर में एक पत्नी ने अपने अरबपति पति का कत्ल करवा दिया. पति के पैसे से 32 लाख की फॉर्चूनर अपने ब्वॉयफ्रेंड को गिफ्ट कर दी. वो रातों-रात पति के कारोबार की मालिकन बन गई, लेकिन उसके पति के 70 साल के बुजुर्ग मां-बाप ने हार नहीं मानी. उन्होंने बेटे के कत्ल के राज से पर्दा उठाने के लिए प्राइवट जासूसों का सहारा लिया. इसके बाद जो सबूत सामने आए वो पुलिस को भी दंग कर गया. पुलिस ने आरोपी पत्नी प्रियंका बत्रा और उसके प्रेमी रोहित को गिरफ्तार कर लिया है.

हाईप्रोफाइल मर्डर की परतें खुलनी शुरू हुई तो रिश्तों पर से भरोसा उठता चला गया. मर्डर की साजिश इतनी खौफनाक थी कि सुनने वाले हैरत में पड़ गए. 27 मई 2016 को यमुनानगर में अरबपति व्यापारी योगेश बत्रा की हत्या कर दी गई थी. इस वारदात को अंजाम देने के लिए 10 लाख रुपये की सुपारी दी गई थी. योगेश की पत्नी प्रियंका और उसका ब्वॉयफ्रेंड रोहित ने उत्तर प्रदेश के रहने वाले दो शख्स को कत्ल के लिए तैयार किया. तय हुआ कि हत्या से पहले योगेश को बेहोशी का इंजेक्शन लगाया जाएगा.

साजिश के तहत इसके बाद बेहोश होने पर बॉडी को नहर में ठिकाने लगा देंगे. लेकिन वारदात के वक्त योगेश को बेहोशी का इंजेक्शन लगाने की कोशिश नाकाम रही. जोर जबरदस्ती की वजह से सूई टूट गई. योगेश को इंजेक्शन नहीं लगाया जा सका. इसके बाद प्रियंका, रोहित और दोनों युवकों ने योगेश के मुंह पर तकिया रखकर उसका दम घोंट दिया. हत्या के बाद प्रियंका ने पति की मौत की वजह ह्रदय गति का रुक जाना बताया. मौत के अगले दिन बिना पोस्टमार्टम करवाए योगेश का अंतिम संस्कार तक कर दिया.

बेसहारा छोड़कर गया जवान बेटा
जांच अधिकारी सुनील कुमार ने बताया कि प्रियंका बत्रा के ससुर ने मामला दर्ज करवाया था कि उनकी बहू ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर उनके बेटे को मौत के घाट उतार दिया है. पिछले साल मई में हुई इस घटना में साढे चार महीने बाद शिकायत दर्ज हुआ है. योगेश बत्रा के पिता सुभाष बत्रा को बेटे की मौत से गहरा झटका पहुंचा. वो मानने को कतई तैयार नहीं थे कि उनका जवान बेटा अचानक उन्हें बेसहारा छोड़कर चला जाएगा. बेटे को कोई गंभीर बिमारी नहीं थी. ऐसे में अचानक उसकी मौत की खबर परेशान कर रही थी.