गोवा में ब्रिक्स सम्मेलन आज से, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंचे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से एक दिन पहले शुक्रवार को गोवा पहुंच गए. यह शिखर सम्मेलन इस तटीय राज्य में आज शुरू होगा. यह आठवां ब्रिक्स सम्मिट है.

ब्रिक्स सम्मेलन की शुरुआत 2011 में हुई थी. ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका इसके सदस्य हैं. इसका मक़सद आर्थिक और राजनीतिक मोर्चे पर पश्चिमी देशों के अधिपत्य को चुनौती है.

इस समिट में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ राष्ट्रपति टेमर (ब्राज़ील), राष्ट्रपति पुतिन (रूस), राष्ट्रपति शी जिंनपिंग (चीन) और राष्ट्रपति ज़ुमा (दक्षिण अफ्रीका) हिस्सा ले रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार से शुरू हो रहे ब्रिक्स सम्मेलन में भाग लेने के लिए कल शाम गोवा पहुंचे. आईएनएस हंसा बेस पर मोदी की अगवानी राज्य की राज्यपाल मृदुला सिन्हा, मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर, उपमुख्यमंत्री फ्रांसिस डिसूजा और अन्य ने की.

प्रधानमंत्री बेनाउलिम स्थित पांच सितारा रिजार्ट गए, जहां सम्मेलन कल शुरू होगा.

पीएम मोदी ने इससे पहले ट्वीट में कहा था, 'अगले कुछ दिन में, भारत आठवें ब्रिक्स और पहले ब्रिक्स-बिमस्टेक सम्मेलन के लिए वैश्विक नेताओं की मेजबानी करेगा'. उन्होंने कहा, 'मैं प्रमुख वैश्विक एवं क्षेत्रीय चुनौतियों पर चीन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील और रूस के नेताओं से लाभदायक बातचीत करने को लेकर आशान्वित हूं'.

प्रधानमंत्री ने कहा, 'इस साल ब्रिक्स अध्यक्ष के रूप में भारत मजबूत आर्थिक एवं लोगों के संबंधों पर जोर देता है. इससे हमें बहुत लाभ होगा'. मोदी ने कहा, 'भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन के लिए राष्ट्रपति पुतिन का स्वागत कर भारत सम्मानित महसूस करता है जो गोवा में होगा'. उन्होंने कहा, 'हम द्विपक्षीय दौरे के लिए ब्राजील के राष्ट्रपति का भी स्वागत करते हैं जो ब्राजील के साथ सहयोग के नए क्षेत्र खोलेगा'.