मुन्ना बजरंगी हत्याकांड : मुन्ना-सुनील राठी ने रात में साथ बैठकर पी थी शराब,सुबह एक फोन आया और....

बागपत. मुन्ना बजरंगी हत्याकांड के मामले में मजिस्ट्रेटी जांच शुरू हो गई है। वहीं इस मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। सूत्रों का कहना है कि जिस दिन मुन्ना की हत्या हुई। उस दिन सुनील राठी के पास किसी शख्स का फोन आया था। इसके बाद सुनील राठी को गुस्सा आ गया और उसकी मुन्ना बजरंगी से कहासुनी हो गई। इसी दौरान सुनील राठी ने मुन्ना को गोली मार दी। गोली लगते ही मुन्ना बजरंगी की मौके पर ही मौत हो गई। 

 

कत्ल वाली तीनों ने पी थी शराब 

-सूत्रों के मुताबिक, कत्ल वाली रात को विक्की सुनहेड़ा, मुन्ना बजरंगी  और सुनील राठी ने साथ में शराब पी थी। मुन्ना और सुनील के बीच सबकुछ ठीक था। 

-बताया जा रहा है कि मुन्ना के कत्ल से ठीक पहले सुनील राठी के फोन पर एक कॉल आया और कॉल के बाद सुनील राठी और मुन्ना बजरंगी में कहासुनी हो गई थी।

-इसके बाद सुनील राठी ने गुस्से में मुन्ना बजरंगी पर गोली चलाई। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। 

 

तीन दिन में सौंपनी होगी रिपोर्ट 

-बता दें कि इस मामले में मजिस्ट्रेटी जांच शुरू हो गई है। डीएम ने एडीएम बागपत लोकपाल सिंह को जांच अधिकारी बनाया है। पुलिस तीन दिन के अंदर जांच अधिकारी के समक्ष तमाम साक्ष्य पेश करेगी। जांच अधिकारी ने मुन्ना बजरंगी की जेल शिफ्टिंग से लेकर हत्या तक का पूरा ब्यूरा जांच मांगा है। जांच अधिकारी ने तीन दिन के अंदर सीओ खेकड़ा और आईओ को हत्या के तमाम साक्ष्य पेश करने का समय दिया है।